हैदराबाद में भीषण हादसा 11 बिहारी मजदूरों की मौत।

बिहार के मजदूर बिहार में रोजगार ना होने के कारण देश के अन्य राज्यों में मजदूरी करने तथा अपनी रोजी-रोटी कमाने के लिए बाहर जाते हैं। अपने परिवार से दूर रहकर दो वक्त की रोटी के लिए घर से कोसों दूर काम करना बिहार के मजदूरों की बहुत बड़ी मजबूरी है। पर कभी कभार ऐसी खबर आ जाती है, जिससे उनका पूरा परिवार सदमे में आ पड़ता है। 

bihari majdoor ghatna

पैसे के वास्ते काम पर निकले इन मजदूरों क्या पता था, कि आज उनकी सारी दास्तान ही मिट जाएगी। कुछ ऐसा ही हुआ हैदराबाद के कबाड़ दुकान में जहां की कई बिहारी मजदूर काम करते थे, जिसमें की आज सुबह की घटना ने उनके परिवार वालों को सदमे में डाल दिया। 

आखिर क्या थी घटना। 

हैदराबाद के भोइगुड़ा में कबाड़ गोदाम में भीषण आग लगने से बिहार के 11 मजदूर की मौत हो गई। खबरों से मिली जानकारी के अनुसार 11 में से 8 मजदूर बिहार के सारण जिले के रहने वाले थे। तथा अन्य तीन मजदूर कि अभी जांच चल रही है।

जैसे ही मौत की सूचना मजदूरों के परिवार वालों को पता चली वैसे ही उनके परिवार में मानो चीख-पुकार सी मच गई। उनके परिवार वालों का रो रो कर बुरा हाल है। 

मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार ने किया 2-2 लाख मुआवजे का ऐलान। 

घटना को लेकर बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि, यह घटना बहुत ही दुखद है। साथ ही मृतकों को बिहार वापस लाने की हर संभव कोशिश की जा रही है। तथा इन मजदूर के परिवार वालों को दो दो लाख रुपए मुआवजे का ऐलान भी किया तथा हर संभव मदद का भरोसा दिया। साथ ही तेलंगाना सरकार ने भी मृतकों के परिजनों को पांच पांच लाख  मुआवजे का ऐलान किया है। 

तारीख: 23/03/2022 

लेखक: राकेश कुमार। 

Leave a Reply

Your email address will not be published.