अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर सीएम नीतीश कुमार

अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर बोले सीएम नीतीश कुमार।

अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस हर साल 8 मार्च को मनाया जाता है।  इसका उदेश्य है की महिलाओं को उनके अधिकार के प्रति उन्हें आगे लाना तथा महिलाओं के प्रति समाज में सम्मान दिलाना वगैरह इसके प्रमुख उदेश्य हैं।

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के मौके पर कहा कि, किसी भी राज्य या देश के विकास में महिलाओं का योगदान बेहद महत्वपूर्ण है। वह प्रतिभा के विभिन्न क्षेत्रों में अपनी अलग पहचान बना रही है।

सीएम ने कहा कि आज हम सभी को संकल्प लेना चाहिए कि संपूर्ण नारी जाति के विकास के प्रति सदैव प्रयत्नशील रहें ताकि उन्हें सामाजिक आर्थिक विकास के साथ एक सुरक्षित और बेहतर माहौल मिल सके।

भारतीय संस्कृति में महिलाओं को देवी समझा जाता है। साथ ही महिला हमारी घरों की मैनेजमेंट से लेकर रसोई तक का सारा काम करती है। कहावत है जिस घर में महिला न हो उस घर की हालत अच्छी नहीं होती है।

परन्तु आज के समय में महिलाए पुरुषों को हर क्षेत्र में टक्कर दे रही है। भारत में ही महिलाए अग्रसर आगे बढ़ रही हैं साइंस, टेक्नोलॉजी, एसएससी, UPSC, टीचिंग, बैंक, पुलिस और भी गवर्नमेंट तथा नॉन गवर्नमेंट सेक्टर में महिलओं का योगदान खासा बढ़ रहा है।

इसलिए सम्पूर्ण विश्व में हर वर्ष 8 मार्च को अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस मानना सुनिश्चित किया गया ताकि महिलाए आगे बढे उनको सम्मान मिले तथा सम्पूर्ण विश्व के लिए महिला एक मिसाल बने।

Leave a Reply

Your email address will not be published.